Home >> Rajasthan >> Alwar
Change Your City
 

Go to Page << Previous1234567...1920Next >>

 
 
 
खबरें फटाफट  शिक्षकों के सेटअप परिवर्तन के लिए काउंसलिंग पर से रोक हटी  कोर्ट की सख्ती के बाद बहरोड़ डीएसपी निलंबित  एजेंसी | इस्लामाबाद   कट्टरपरंपराओं और इस्लामी दायरे में बंधी रहने वाली पाकिस्तानी महिलाएं अब मुखर हो गई हैं। महिलाओं ने उस कानून को मानने से इंकार कर दिया है, जिसमें पतियों को पत्नियों की पिटाई का अधिकार दिया गया था। ये अधिकार काउंसिल ऑफ इस्लामिक आइडियोलोजी (सीआईआई) के बिल में दिया गया था। सीआईआई पाकिस्तान की 20 सदस्यीय संवैधानिक संस्था है जो संसद को कानून बनाने के संबंध में सलाह देती है। बिल के विरोध में महिलाओं ने हैशटैग ‘ट्राय बीटिंग मी लाइटली नाम से अभियान छेड़ दिया है। इसमें महिलाएं पितृसत्तात्मक समाज को पत्नी पर हाथ उठाने के खिलाफ सीधी चेतावनी दे रही हैं। फोटोग्राफर फहाद राजपर ने ऐसी 12 महिलाओं की फोटो सीरीज जारी की है। साथ में उनके कमेंट्स भी हैं। पढ़ियेपत्नियों ने किस तरह अपने-अपने पतियों को चेतावनी दी है-  बिना काम 1 करोड़ का भुगतान, आईएएस   पवन और आरएएस अग्रवाल गिरफ्तार  जांच के लिए कॉपियां दूसरे राज्यों में भेजने का विरोध, रेजीडेंट्‌स हड़ताल पर
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन