ई-पेपर
Change Your City
 

Go to Page << Previous1234567...1718Next >>

 
 
 
टिकाऊ रिश्तों को लेकर शिकायत करने वाले बिग बी खुद अपवाद नहीं   कमवक्त की होती है बॉलीवुड में दोस्ती  यूट्यूब कमाता है कितना पैसा  सब लेफ्टिनेंट मोनालिसा शुक्ला   23साल की मोनालिसा का यह पहला असाइनमेंट है। नेवी में कमिशन होने के दो दिन बाद ही ऑर्डर मिला। कहती हैं पिता सेना में सूबेदार हैं। छोटी थीं जब उनकी पोस्टिंग मुंबई में हुई तब से नेवी यूनिफॉर्म से प्यार है। पहली बार परेड देखी तब 8वीं में थी। अब गर्व है कि इसका हिस्सा हूं।   शेषपेज|8 पर     परिवारकी पहली डिफेंस ऑफिसर   कोच्चि बेस में 50 वुमन ऑफिसर हैं। उनमें से 40 परेड में भाग ले रही हैं। लक्ष्मी भी उनमें एक हैं। वो कहती हैं कि जब इस परेड के बारे में पता चला तो कोई ऑफिसर ऐसी नहीं थी जो इसमें पार्टिसिपेट करना नहीं चाहती हो। वे रहनेवाली तो दिल्ली की हैं, लेकिन रिपब्लिक डे परेड अब तक सिर्फ टीवी पर देखी थी। आज वह इसका हिस्सा हैं। लक्ष्मी परिवार की पहली डिफेंस ऑफिसर हैं। कहती हैं- प्रधानमंत्री मोदी ने जो नारी शक्ति पर विश्वास जताया है वह उसे पूरा करना चाहती हैं। वैसे ये परेड उनके लिए किसी सपने के सच होने जैसा है।   -लेफ्टिनेंट लक्ष्मी गोस्वामी, नई दिल्ली, पोस्टिंग कोच्चि (केरल)   दिखाना चाहती हूं कि कोई काम ऐसा नहीं जो हम नहीं कर सकते   जून में कमिशन हुईं आना भल्ला को हर काम अलग तरह से करना पसंद है। उनके लिए नारी शक्ति का मतलब विचारधारा को बदलना है। आना लोगों को दिखाना चाहती हैं कि ऐसा कोई काम नहीं जो महिलाएं नहीं कर सकतीं। फिर पूरी टीम का मोटीवेशन उन्हें और ताकत देता है। मोटीवेट करने के लिए तो खुद नौसेना प्रमुख भी उन लोगों से मिले थे। कहती हैं हमारे देश में ऐसा सोचा जाता है कि कई काम हैं जो लड़कियां नहीं कर सकतीं। यही सोच बदलने वो डिफेंस में आई थीं। आज भी कुछ खास करने के गर्व के साथ कंधे से कंधा और कदम से कदम मिलाकर राजपथ पर मार्चपास्ट कर रही हैं।   -सब लेफ्टिनेंट आना भल्लापटियाला, पोस्टिंग विशाखापट्टनम  20 डॉक्टर, 4 ऑपरेशन टेबल, 16 घंटे: पहली बार देश में ऐसी सर्जरी  25 जनवरी 2015, माघ शुक्ल पक्ष-6, 2071
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन