Home >> Madhya Pradesh >> Bhopal City Bhaskar >> Bhopal City Bhaskar
    • Set as Default
     
     
    मेरा तो बाल-बाल भोपाल के कर्जे से बंधा है   डिजाइंस करा सकेंगे तैयार   एक्सपो में बुनकर सेवा केंद्र के आर्टिस्ट ने कागज पर कलर पेंसिल और पेपर शीट पर ऐसे डिजाइंस तैयार किए हैं, जिन्हें देखकर लगता है कि यह कपड़े पर तैयार किए गए होंगे। ऐसे 60 सैंपल्स तैयार किए गए हैं, जिसमें साड़ी से लेकर ड्रेस मटेरियल के डिजाइंस बाॅर्डर के साथ, टॉवेल और दरी के डिजाइन भी सैंपल्स में हैं।  जली हुई सिगरेट, बबल रैप और रस्सियाें से बनाई ड्रेस   जीन ही है मोटापे की वजह   वर्कशॉप में कैलिफोर्निया यूनि. से आए डॉ. पीसी डिडवानिया ने बताया कि भारतीयों में एक विशेष जीन (फिफ्ट्री) होता है, जो शुगर या वसा को शरीर में ही समेट कर रखता है। अमेरिका में इस तरह का जीन नहीं होता। यही कारण है कि भारत में मोटापा ज्यादा होता है। उन्होंने बताया कि मोटापा हाथ पैर या मुंह से नहीं देखा जाना चाहिए। पेट का मोटापा (एब्डॉमिन ओबेसिटी) सबसे खतरनाक होता है। जिस व्यक्ति के हाथ-पैर दुबले हैं, लेकिन पेट फूला है, तो ज्यादा खतरनाक हो सकता है।   40-45 में हार्टअटैक की समस्या   डॉ. डिडवानिया ने बताया कि भारत में अमेरिका से 15 साल पहले लोगों को हार्ट अटैक होता है। भारत में 40 से 45 साल में हार्ट अटैक जैसी समस्या हो जाती हैं, लेकिन वहां 60 साल के बाद ही शुरू होती हैं। इसकी वजह यहां का कल्चर भी है। यहां ब्लड शुगर, बीपी को कम करने के लिए लोग दवाएं लेते हैं, जिससे यह सामान्य से कम हो जाता है। यह भी कई बार खतरनाक हो जाता है।  पेपरलेस वर्किंग करेगा IIFM ऑनलाइन होगा हर काम   उस रात मौत की नदियां बह रही थीं