Change Your City
 
निज संवाददाता.   बनवार   जनपद जबेरा के अनेक गांव में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था न होने के कारण लोग दूषित पानी पीने को मजबूर हैं। पांच सौ हजार की आबादी में बसे गांव घुटकुआ, बगलवारा में गर्मी के लगते ही लोग भीषण जल संकट की त्रासदी भुगतने को विवश हो जाते हैं। क्योंकि इन गांवों की मुद्दतों से गर्मी के समय बूंद-बंूद पानी की परेशानी को हल करने के लिए जलस्त्रोत तक विकसित नहीं किए गए। जल संकट से निपटने के लिए एक मात्र सहारा हैंडपंप हैं लेकिन इन हैंडपंपों की देखरेख करने के जबाबदेह विभाग के अधिकारी मैकेनिकों का हाल यह है कि हैंडपंप में आई खरीबी के चलतें बंद हो जाते हैं तो महीनों के समय बीतने के बाद भी सुधार कार्य नहीं किया जाता है। जिससे मजबूरी की मारी जनता प्यास बुझाने के लिए अपनी जान जोखिम में डालकर फिर परंपरागत दूषित जल स्त्रोतो के सहारे रह जाती है। जिसका पानी पीने से वॉटर इंफेक्शन से अनेकों बीमारी लोगों के घरों में जगह बना रही हैं।     घुटकुआं के घर-घर में पीने के पानी का संकट     मनगुवां मानगढ पंचायत के गांव घुटकुआ की आबादी एक हजार है। यहां पर जलस्त्रोत के नाम पर एक हरिजन मुहल्ला में हैडपंप है और दूसरा नदी किनारे लगा है जिनमें पानी कम निकलनें की वजह से गांव के लोगों के लिए पीने के पानी का एकमात्र सहारा कुंआ है। जिसके ईद गिर्द जलभराव स्थिति के चलते गंदगी युक्त पानी का रिसाव कुंए में हो रहा है। जिसका पानी गांव भर के लोग पीते है। इसी कुंए पर गांव के लोगों का नहाने, धाने का काम भी चलता है। नतीजन कुए के पास गड्ढों में भरा प्रदूषित पानी कुंए में रिसाव होता है। जिसका उपयोग गांव वालों द्वारा पीने के लिए किया जा रहा है। यही वजह हैकि दूषित पानी पीने के संक्रमण से एक माह पहले ही गांव के पचास बच्चों को गलसुआ रोग फैल गया था।  हटा. शुक्रवार दोपहर से लेकर शाम तक चली तेज हवाओं के कारण गौरीशंकर वार्ड में चंडी जी मंदिर के पास एक नीम का पेड़ एक घर पर जा गिरा। जब पेड़ गिरा तो उस दौरान उस रास्ते पर आवागमन कम था जिसके कारण हादसा बच गया।   इसी तरह मद्दी बगीचा के पास बिजली तार पर पेड़ गिर जाने से तार टूट गया जिसके कारण देर रात तक बिजली बंद रही। नगर पालिका के द्वारा नदी के घाटों पर लगवाई गई सौर उर्जा लाइट का पोल भी टूट गया। जिसे बाद में नगर पालिका के द्वारा व्यवस्थित किया गया। तेज हवाओं ने संचार सेवाओ को भी प्रभावित किया। कुछ समय के लिए तो सभी मोबाइल सर्विस बंद रही। बाद में इंटरनेट सेवाएं देर रात तक बंद रहीं।
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन