ई-पेपर
Home >> Dhanbad >> Dbstar Dhanbad
Change Your City
 
राजीव सिन्हा 9835236367   जिलेमें चोरी, डकैती, छिनतई हत्या की घटनाएं आम होती जा रही है। अपराधियों का नेटवर्क इतना मजबूत है कि घटना को अंजाम देने के लिए टार्गेट, घर का नक्शा समेत सभी जरूरी जानकारी मालूम रहता है। घटना को सफलता पूर्वक अंजाम देने के बाद अपराधी बड़े ही आराम से निकल जाने में भी कामयाब हो जाते हैं। हाल में ही घटित सेंधमारी और डाका कांडों में अपराधियों ने पूरे इत्मीनान से घटना को अंजाम दिया। घटनास्थल पर इत्मीनान से नाश्ता-खाना का भी लुत्फ उठाया। इससे जाहिर है कि अपराधियों को जिले की पुलिस का कोई खौफ नहीं है। हालांकि आपराधिक घटनाएं होने के बाद पुलिस खानापूर्ति करने के लिए शहर में वाहन चेकिंग का अभियान चलाती है। परन्तु इसकी ओट में दो पहिया वाहन चालकों से मुद्रा मोचन से सिवा कुछ नहीं होता। भूले भटके कुछ नौसिखिया अपराधी इनकी चपेट में जाते हैं तो पुलिस अपनी कामयाबी का दावा ठोंकने लगती है।  भारी वाहन चालक खुलेआम यातायात नियम की धज्जियां उड़ा रहे हैं। पुलिस-प्रशासन कार्रवाई करने की बजाय आंखें मूंद लेती हैं। वहीं बगैर हेलमेट पहने दोपहिया वाहन चालक के खिलाफ सख्ती से पेश आती है। मुकेशकुमार, स्थानीय   ओवरलोडभारी वाहनों की जांच नहीं होती है। पुलिस-प्रशासन केवल आम लोगों पर कार्रवाई करती है। ऐसा लगता है आम लोगों के लिए नियम बनाए गए हैं। बड़े वाहनों पर ओवर लोड से सड़कों को नुकसान पहुंच रहा है। अजीतकुमार, स्थानीय  डीबी स्टार.धनबाद   बलियापुरप्रखंड के आमझर मोड़ से बस्ती तक जाने वाली सड़क निर्माण के तीन माह बाद ही जर्जर हो गई। प्रखंड कार्यालय से मात्र एक किलोमीटर की दूरी पर स्थित आमझर मोड़ से ग्रामीण कार्य विभाग, कार्य प्रमंडल ने राज्य संपोषित योजना अन्तर्गत 40 लाख की सड़क बनाई थी। अब सड़क की जगह बड़े-बड़े गड्ढे हैं। राज्य संपोषित योजना के तहत नवनिर्मित सड़क एक माह में उखड़ने लगी है। ऐसे में इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि किस कदर सड़क बनाने में मानकों की अनदेखी की जाती है। अभी पूरी सड़क बन भी नहीं पाई है कि पीछे से गिट्टी उखड़ने लगी और जानलेवा गढ्ढ़े बन गए। इस सड़क पर पांच साल तो क्या पांच माह भी फर्राटा भरने के अरमान टूट गए हैं।
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन