ई-पेपर
Change Your City
 
न्यूज इनबॉक्स  गिरिडीह जेल में लगी अदालत  बेंगाबाद में भटक रहा साहेबगंज का एक बालक बरामद  सरकारी रास्ते की हुई मापी  बंधु परिषद ने एकल विद्यालयों के बीच बांटी शिक्षा की सामग्री  भास्कर न्यूज|गिरिडीह   गांडेयविधायक प्रो जयप्रकाश वर्मा ने रविवार को गिरिडीह मुफ्फसिल प्रखंड के जीतपुर गांव के पहाड़पुर गांव का भ्रमण कर ग्रामीणों की समस्याएं सुनी। इधर इस गांव में पहली बार किसी विधायक के पहुंचने पर ग्रामीणों ने उनका जमकर स्वागत किया। मांदर की थाप पर ग्रामीणों ने नृत्य कर विधायक का स्वागत करते हुए फूल माला से लाद दिया गया।   लंबे समय से पेयजल संकट से जूझ रहे इस गांव के ग्रामीणों ने कई बार जिला प्रशासन से लेकर तत्कालीन जनप्रतिनिधियों के पास इस समस्या को रखकर इसके समाधान की मांग की थी। लेकिन कोई पहल नहीं होने पर अब वे हतोत्साहित हो गए थे। रविवार को जैसे ही विधायक उनके गांव में पहुंचे उनकी बाछें खिल गई। ग्रामीणों की उम्मीद इनसे जग गई। ग्रामीणों ने पूरे उल्लास के साथ इनका स्वागत किया। मांदर की थाप पर ग्रामीणों ने जमकर नृत्य किया। इस गांव में विधायक का आना गांव के लिए सौभाग्य की बात हो गई। लोग उनकी आवभगत में जुट गए। इस मौके पर ग्रामीणों की समस्या को सुनने के बाद कहा कि भाजपा सरकार अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ी जाति और गरीबों के विकास के लिए काम कर रही है। सभी गावों में बिजली, पानी और अन्य आधारभूत सुविधाएं मुहैया कराने के लिए कार्य कर रही है। सरकार इस सोच पर काम कर रही है कि राज्य में कोई भी गरीब भूखा, नंगा नहीं रहे। सभी को रोटी, कपड़ा, मकान के साथ शिक्षा और स्वास्थ्य की सुविधा मिले।   इसके लिए प्रतिनिधि भी पल कर रहे हैं। उन्हें यहां की समस्या पर आवश्यक पहल का भरोसा दिया। ग्रामीण सैमुअल मुर्मू ने कहा कि गांव में विधायक का आना सौभाग्य की बात है। पहली बार विधायक उनके गांव में पहुंचे है। उन्हें भरेासा है कि अब उनकी समस्या का समाधान हो जाएगा। इस मौैके पर वहां के अनुसूचित जन जाति की महिला पुरूषों के साथ बाबूलाल किस्कू, जीतेंद्र कुमार वर्मा, प्रभाकर समेत बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।  विधायक रखेंगे पथ की आधारशिला  अपराधी की गिरफ्तारी में सफलता  संगीत में मूर्धन्य कलाकारों का संगत कर बनाई अंतरराष्ट्रीय पहचान  बिजली बिना खराब हो रहीं दवाएं  पद : 372  पद का नाम : असिस्टेंट प्रॉसिक्यूशन ऑफिसर्स   योग्यता: किसीभी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से लॉ की डिग्री होना आवश्यक है   आयु : 21 वर्ष से अधिक 40 वर्ष से कम (1 जुलाई, 2015)   ऐसेकरें आवेदन : इच्छुकएवं योग्य उम्मीदवार वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं   चयन: लिखितपरीक्षा और साक्षात्कार के आधार पर   अंतिम तिथि : आवेदन की अंतिम तिथि 29 मई, 2015 है   http://uppsc.up.nic.in/  मुंबई से मजदूर का शव सेमरबेड़ा पहुंचा  जरूवाडीह में पूरा हो रहा “हमारे गांव में हमारा राज” का सपना
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन