Home >> Jharkhand >> Giridih Bhaskar
    • Set as Default
     
     
    सिटी रिपोर्टर | गिरिडीह   मदरसाजामिया रजवीया का सालाना दस्तार-ए-बंदी जलसा आयोजित हुआ। जिसमें 11 लड़कों का दस्तार-ए-बंदी किया गया। इस जलसे में देश भर के वक्ताओं एवं नात पढने वालों ने हिस्सा लिया। वहीं मौलाना कुतबुद्दीन ने देश के अमन एवं चैन की दुआ की। जलसा में मौलाना अबुल हक्कानी ने अल्पसंख्यकों में गिरते शिक्षादर पर चिंता जाहिर करते हुए सभी से बच्चों काे अच्छी तालीम दिलाने की बात कही। ताकि समाज के साथ ही देश की भी तरक्की हो। अशद इकबाल कलकतवी ने कहा कि दिलकश रांचवी, मुबारक हुसैन मुबारक के नात को रातभर लोग सुनते रहे।   इस दौरान मौलाना बरकत अली, मौलाना मोबीन, सैय्यद मीरान, हाफीज आसिफ इकबाल ने भी शिक्षा पर दिया। सदारत अलहात सलाततुल्लाह एवं मुफ्ती जाकिर अली ने धन्यवाद ज्ञापित कर जलसे का समापन किया। यह जानकारी तंजिम अहले सुन्नत के सचिव इरशाद अहमद वारिस ने दी। मौके पर मौलाना हसीबुल कादरी, मौलाना मुख्तार, साह आलम नूरी, मौलाना इरफान, जमील अहमद, तैमूर अली कादरी, सरफराज चांद, जीशान अली, टिंकू खान, राजन कुरैशी गुलाम गौस, जफर आलम, मो इकबाल सहित दर्जनों लोगों ने हिस्सा लिया।  संशोधन का प्रस्तावित बिल स्थगित वकीलों ने खुशी में खिलाई मिठाइयां  माल्डा नगवां पंचायत में पंचायती राज दिवस