ई-पेपर
Change Your City
 

Go to Page << Previous1234567...1516Next >>

 
 
 
बजट में हिस्सा  इसके लिए जीरो  सबसे ज्यादा  सबसे कम  सबसे ज्यादा बढ़ोतरी मनरेगा में  5 नए एम्स बनेंगे  सबसे ज्यादा जोर इन पर  चाय पर चर्चा   की 10 बातें  यह पहली बार  महिला  कॉर्पोरेट टैक्स को 4 साल में 5 फीसदी कम करने से देश की तमाम कंपनियों को लाभ होगा। इससे कंपनियां नए प्रोजेक्ट में निवेश कर सकती हैं। साथ ही बाजार में एफआईआई (विदेशी संस्थागत निवेशकों) के लिए पूंजी भारत में निवेश करने के नियम सरल किए गए हैं। साथ ही न्यूनतम वैकल्पिक कर (मैट) को खत्म कर कंपनियों को राहत दी है, जिससे रोजगार कई गुना बढ़ेंगे।  सेतु के नाम से स्वरेाजगार योजना। नीति आयोग 1000 करोड़ रुपए का आवंटन करेगी। इसके अलावा ग्लोबल सेंटर भी बनेगा।  इतना टैक्स देकर भी दरकिनार मिडिल और सर्विस क्लास  सेंसेक्स  सर्विस टैक्स रेट अब 14 फीसदी हुई। मोबाइल से लेकर बाहर खाना खाने तक के सारे बिल चुकाना महंगा हो जाएंगा। 22 इंपोर्टेड वस्तुओं पर ड्यूटी घटी।  आम लोगों के लिए बजट में निवेश के कई नए फ्रंट सरकार ने खोले हैं। निवेशकों के लिए चार नए ऑप्शन और कर छूट के प्रावधान किए गए हैं।  छोटी इकाइयों को आसान फाइनेंस के लिए बैंक बनेगा। एससी-एसटी के लिए अलग लोन की सुविधा। कृषि ऋण लक्ष्य 8.5 लाख करोड़ किया।  इनकम टैक्स स्लेब में इस साल कोई बदलाव नहीं किया गया है। वैल्थ टैक्स हटाकर 1 करोड़ सालाना कमाई वाले लोगों पर 2 फीसदी सरचार्ज लगाया है।  रक्षा बजट 11% बढ़ाया  क्या यह बजट मुझे बेहतर क्वालिटीऑफ लाइफ देगा 1 मार्च 2015, फाल्गुन शुक्ल पक्ष-11, 2071
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन