Home >> Madhya Pradesh >> Gwalior City Bhaskar
    • Set as Default
     
     
    26 साल से कर्नाटक शैली में गा रहीं सुधा, पति बांसुरी पर करते हैं संगत   जेसीआई क्लब प्रियदर्शनी की चार्टर नाइट में कलाकारों ने डांस भी प्रस्तुत किया   कागज की ड्रेस पहनी और बार्बी डॉल बने बाल प्रतिभागी   आईटीएम यूनिवर्सिटी में संगीत सम्मेलन का समापन कुतले खान के सूफियाना गायन से हुअा  शहर के विभिन्न फैशन एक्सपर्ट का कहना है कि यूथ अब लंबे समय तक एक स्टाइल में बंधकर नहीं रहना चाहते हैं। यही वजह है कि वह ड्रेस में कुछ समय के बाद नयापन चाहते हैं। इसके लिए वे पसंद के हिसाब से कस्टमाइजेशन करा रहे हैं। डिमांड को देखते हुए फैशन एक्सपर्ट भी एक्सपेरिमेंट कर रहे हैं। कई तरह से कलर कॉम्बिनेशन में बदलाव किया जा रहा है, और ड्रेस तैयार की जा रही हैं।  सीबीएसई ने 25 साल बाद खत्म की मॉडरेशन पॉलिसी   आईआईटीटीएम में होगी वर्कशॉप   अतुल्य पूंजी को सहेजेंगे जागरूक पर्यटक होने का दें परिचय   एनसीईआरटी ने 18 प्रोजेक्ट के लिए मांगे एप्लीकेशन   ग्लैमर    ‘जब उसने प्रपोज किया तो पता भी नहीं था ये सब क्या होता है