ई-पेपर
Home >> Gwalior >> Gwalior City Bhaskar
Change Your City
 
गूगल से सीखी तकनीक, कबाड़ में ढूंढे पुर्जे और Rs. 12 हजार में बना दिया प्लेन   स्पेस चैलेंज में शामिल होकर मिलेगा 5 लाख जीतने का मौका   ऑल इंडिया लेवल मूक कोर्ट 29 जुलाई को, रजिस्ट्रेशन 12 तक   अमित दुबे <img src=images/p3.png<img src=images/p1.png>   इंजीनियरिंग की डिग्री कम्पलीट करने के बाद भी अधिकांश स्टूडेंट्स का प्लेसमेंट नहीं हो पाता है। इसकी सबसे बड़ी वजह है कि कंपनी इंजीनियरिंग की डिग्री के अलावा एक्स्ट्रा क्वालिफिकेशन की डिमांड करती हैं। इसे देखते हुए माधव इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस (एमआईटीएस) चार प्रोफेसनल सर्टिफिकेट कोर्स शुरू करने जा रहे हैं। इन कोर्स का उद्देश्य इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स की एक्स्ट्रा क्वालिफिकेशन देना है। इसलिए इन कोर्स को शुरू किया जा रहा है। इन सभी कोर्स में 50-50 सीटें निर्धारित की गई हैं। इनमें सीट अलॉटमेंट पहले आओ पहले पाओ के आधार पर होंगी। रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस 15 जुलाई से शुरू होकर 30 जुलाई तक रहेंगी और क्लास अगस्त से शुरू होंगी।   आईआईटी से मिली प्रेरणा   एमआईटीएस के डायरेक्टर डॉ. संजीव जैन का कहना है कि इन प्रोफेशनल कोर्स को आईआईटी की तर्ज पर शुरू किया जा रहा है। इन कोर्स की शुरुआत आईआईटी खड़गपुर ने की थी, इनकी सफलता के बाद इंस्टीट्यूट में भी इन कोर्स को शुरू किया जा रहा है। इसके यदि बेहतर परिणाम मिले तो भविष्य में इन काेर्स की संख्या को बढ़या जाएगा। वहीं प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर डॉ. दीप शर्मा का कहना है कि शुरुआत दौर में चार सर्टिफिकेट कोर्स को शुरू किया जा रहा है। इन कोर्स को सब्जेक्ट एक्सपर्ट के साथ प्रोफेशनल एक्सपर्ट पढ़ाएंगे। इसकी सभी तैयारियां कर ली गई है। इसमें स्टूडेंट्स के पास विकल्प रहेगा कि वो अपने मुताबिक शनिवार और रविवार में से किसी एक दिन क्लास चुन सकते हैं।
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन