ई-पेपर
Change Your City
 

Go to Page << Previous1234567...1920Next >>

 
 
 
दिल्ली : एयरपोर्ट पर रेडियोएक्टिव के रिसाव की अाशंका से खलबली   एजेंसी | नई दिल्ली   दिल्लीमें आईजीआई एयरपोर्ट पर शुक्रवार सुबह तुर्की से आए एक कंटेनर में रखी न्यूक्लियर मेडिसिन से रेडियोएक्टिव रिसाव की खबर से हड़कंप मच गया। तुरत-फुरत एनडीआरएफ की टीम ने वहां पहुंचकर कथित लीकेज को बंद करने का काम किया। कुछ ही समय बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने दावा किया कि रिसाव बंद कर दिया गया है। हालांकि बाद में एटॉमिक एनर्जी रेगुलेटर बोर्ड (एईआरबी) ने कहा कि यह रेडियोएक्टिव रिसाव था ही नहीं। बोर्ड ने शाम को बताया कि तुर्की एयरलाइंस से आए कार्गो से किसी दूसरे कंसाइनमेंट का ऑर्गनिक लिक्विड बिखर गया था। शेष| पेज 11   इसमेंकिसी तरह का रेडियोएक्टिव पदार्थ नहीं था। इससे पहले एयरपोर्ट पर कार्गो टर्मिनल में लोगों की आंखों में जलन होने और आंसू निकलने की शिकायत के बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने यह बताया कि यह परेशानी रेडियोएक्टिव पदार्थ में रिसाव से हो रही है।   अस्पताल के लिए आई थी न्यूक्लियर मेडिसिन   एयरपोर्ट अधिकारियों के मुताबिक एक कंटेनर में तुर्की से दस पैकेट आए थे। इसमें से चार में न्यूक्लियर पदार्थ से बनी (सोडियम आयोडाइड 131) दवाइयां थी। इन्हें एक मल्टी सुपरस्पेशलिटी अस्पताल ने मंगाया था। एईआरबी के वाइस चेयरमैन आर. भट्टाचार्य के मुताबिक सोडियम आयोडाइड दवा को मंगाए जाने की अनुमति है। देश में भी इसे बनाया जाता है और 120 केंद्रों पर भेजा जाता है।  पहले गुड न्यूज  न्यूज इनबॉक्स  कार पेड़ से टकराई, दो बहनों सहित 6 की मौत, 2 घायल  पटरी पर प्रदेश, लेकिन 8 दिन में 350 करोड़ रु. का नुकसान  केजरीवाल को झटका, कोर्ट ने एलजी को दिए अधिकार  अब हम दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था, चीन को पीछे छोड़ा  विकेट कीपर फ्लेचर अरेस्ट  योग: मेजबानी सिंगापुर को  1.21 करोड़ रु. में कूपे कार  गूगल से ऑनलाइन शॉपिंग  विकलांग के लिए विंडो सीट  ऑनलाइन लोन आवेदन करें  स्कूलों, अस्पतालों में मुफ्त में लगेंगे ब्रॉडबैंड  रो पड़े अमेरिकी छात्र, क्या कभी हम भारतीयों से जीतेंगे  नगरीय विकास विभाग ने लागू किए कड़े नियम  नवजात की धड़कन बंद, जुगाड़ से जी उठा
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन