ई-पेपर
Change Your City
 

Go to Page << Previous1234567...2122Next >>

 
 
 
...जबकि नौकरीपेशा पर पहले ही इतना टैक्स कि 55% ही घर जाता है वेतन  बहुत बुरी सर्विस  बजट के बाद बोले जेटली  सर्विस टैक्स रेट 14 फीसदी हो गई। मोबाइल से लेकर बाहर खाना खाने तक के सभी बिल चुकाना महंगा हो जाएगा। 22 इंपोर्टेड वस्तुओं पर ड्यूटी घटी।  विकास दर होगी 8-8.5 फीसदी  सेतु के नाम से स्वरेाजगार योजना। नीति आयोग 1000 करोड़ रुपए का आवंटन करेगी। इसके अलावा ग्लोबल सेंटर भी बनेगा।  आंत्रप्रेन्योर को आसान फाइनेंस के लिए बैंक बनेगा। एससी-एसटी के लिए अलग लोन की सुविधा। कृषि ऋण लक्ष्य 8.5 लाख करोड़ किया।  सेंसेक्स  आम लोगों के लिए बजट में निवेश के कई नए फ्रंट सरकार ने खोले हैं। हालांकि एजेंटों द्वारा म्यूच्युअल फंड की खरीद पर सर्विस टैक्स लगा दिया।  टैक्स %स्लैबनहीं बदला   शून्य2.5लाख तक   10%2.5से 5 लाख   20%5से 10 लाख   30%10लाख से ऊपर  यहां सबसे ज्यादा जोर  बजट का पूरा गणित  5 एम्स, 2 आईआईएम और 2 आईआईटी  बजट विस्तार  यह पहली बार  {आशीषकुमार चौहान, एमडी, सीईओ- बांबे स्टॉक एक्सचेंज  रक्षा बजट 11% बढ़ाया  2 मिनट गाइड  क्या यह बजट मुझे बेहतर क्वालिटीऑफ लाइफ देगा {इकोनॉमी पक्ष में पर बिग-बैंग रिफॉर्म की घोषणा नहीं।   {डिजिटल इंडिया और स्मार्ट सिटी का जिक्र तक नहीं।   {खेलों के मद में कुछ नहीं, जिम्मेदारी राज्यों पर छोड़ी।  1 मार्च 2015, फाल्गुन शुक्ल पक्ष-11, 2071
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन