Home >> Madhya Pradesh >> Dbstar Indore
    • Set as Default
    महालेखाकार ने दान में मिली रकम और उसके खर्च के तरीके पर तल्ख टिप्पणी की है। रिपोर्ट में लिखा है कि कायाकल्प के तहत दानदाताओं से प्राप्त एवं व्यय राशि का अस्थायी हिसाब रखा गया। इसके लिए विधिवत रोकड़ बही (कैश बुक) का संधारण नहीं किया गया। यह वित्तीय नियमों के प्रतिकूल और अनियमित है। यही वजह है कि मामले में आर्थिक अनियमितता से इनकार नहीं किया जा सकता।  विधानसभा क्षेत्र क्र. 2 की शराब दुकान के विरोध में हो रहा खेल   हॉलीवुड की सबसे महंगी अदाकारा रह चुकी हैं निकोल    पेज-6