Home >> Madhya Pradesh >> Indore City Bhaskar >> Indore City Bhaskar
    • Set as Default
     
     
    बरगद की रहस्यमयता   अपर्णा बिदासरिया की प्रदर्शनी भारतभवन में 31 जनवरी से 5 फरवरी तक चलेगी। इसमें वे आइल और एक्रिलिक से बनाई अपनी चित्रकृतियां प्रदर्शित करेंगी। ये कृतियां बरगद शीर्षक से लगाई जाएंगी। इसमें उन्होेंने बरगद की रहस्यमयता और विशालता को कलात्मक कौशल और रचनात्मक संयम के साथ रचने की कोशिश की है। उनकी ये कृतियां रंगों के बरताव के कारण आकर्षक बन पड़ी हैं।  सानंदोत्सव में सुवर्ण मराठी 22 जनवरी को   पक्षियों की मॉनिटरिंग और डॉक्युमेंटेशन पर वर्कशॉप 22 को   14 राज्यों के युवा करेंगे शिरकत कई कार्यक्रम होंगे   मक्के की फ्राइड इडली, पानिये का मज़ा   मैराथन के लिए दो हजार लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन, अब नेशनल कोच दे रहे हैं ट्रेनिंग   विकसिय किया जाएगा यह तालाब   ग्रामीण तेजसिंह पटेल और सैलानी अजीत चौधरी ने बताया कि पुल बनने के पहले तालाब को नाव से पार करना पड़ता था। लेकिन अब पुल से बहुत सुविधा हो गई है। लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने इस जगह की सुंदरता को देखकर ही इसे कमल पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित करने की घोषणा की थी। अब डेवलपमेंट पर ध्यान दिया जा रहा है।   सनराइज़ और सनसेट का अद्भूत नजारा   यहां पर शाम या फिर सुबह का नजारा अद्भूत होता है। कई फोटोग्राफर्स सनसेट और सनराइज़ की तस्वीरों के लिए यहां रेगुलर आते हैं। इस मौसम में विदेशी पक्षियों का आगमन होने से इस जगह की सुंदरता और भी बढ़ गई है।  ये दिए सफलता के सूत्र   1. लव योर सब्जेक्ट : विषय को सिर्फ पढ़ें नहीं बल्कि उससे प्रेम करें।   2. सिली मिस्टेक्स : इनसे परेशान होेने के बजाय माॅक टेस्ट को 100 फिसदी साॅल्व करें। 20 फीसदी गलतियां करने के बाद भी 80 फीसदी अंक अच्छी रैंक दिलवाएंगे।   3. नो योर लिमिटेशन्स : अपनी क्षमताओं को पहचानें। इसी के आधार पर ही ज़िम्मेदारियों को बीड़ा उठाएं। बेवजह की उम्मीदें खुद से ना रखें।   4. कंसिस्टंसी : पढ़ाई को नियमित बनाए रखें। एक दिन की अनियमितता आपको पीछे कर देगी।   5. सिन्सियारिटी : गंभीर प्रयास करें।   6. डिविएशन और फ्रैंडशिप : दोस्त महत्वपूर्ण हैं विचलित करने वाले दोस्तों सेदूर रहें।   7. रिस्पेक्ट पैरेंट्स : माता-पिता का हमेशा सम्मान करें। परिस्थिति कैैसी भी हो इसे कतई ना भूलें।  मैं सरोद को गिटार की तरह करना चाहता हूं लोकप्रिय   ख्यात सरोदवादक उस्ताद अमजद अली खां का कहना है कि मैं सरोद को गिटार की तरह लोकप्रिय करना चाहता हूं। आज कई युवा कलाकार गिटार पर जो शास्त्रीय संगीत बजाने की कोशिश कर रहे हैं वह असल में सरोद की तरह ही गिटार बजा रहे हैं। यह बात उन्होंने एक होटल में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही। उन्होंने कहा कि आज सरोद की इतनी लोकप्रियता के देश में 500 से ज्यादा संजीदा कलाकार सरोद वादन कर रहे हैं।  ग्लैमर    विन डीजल ने शेयर की मुंबई की कटिंग चाय...