Home >> Madhya Pradesh >> Indore City Bhaskar >> Indore City Bhaskar
Change Your City
 
श्रद्धा चौबे. आज हॉकी के जादूगर पद्मश्री मेजर ध्यानचंद का जन्मदिन है। उनकी याद में पूरे देश में यह नेशनल स्पोर्ट्स डे के रूप में मनाया जाता है। हर साल की तरह इस बार भी कुछ रस्मी कार्यक्रम होंगे। बेहतर खिलाड़ी तैयार करने के तमाम सरकारी दावे किए जाएंगे। रियो ओलिम्पिक में कुछ भारतीय खिलाड़ियों की उपलब्धियां सबसे बड़ा मुद्दा बनेंगी। जबकि खेल मैदानों पर नज़र दौड़ाएं तो कई ऐसे खिलाड़ी मिल जाएंगे जो आर्थिक अभावों के चलते खेल से दूर हो चुके हैं और जीवन की बुनियादी जरूरतें पूरी करने में जुटे हैं। लेकिन ये हारे नहीं हैं बल्कि विजेता हैं जीवन में क्योंकि इन्होंने उम्मीद नहीं छोड़ी है। लड़ना नहीं छोड़ा है। ये अब भी हालातों को चुनौती दे रहे हैं। सिटी भास्कर ऐसे ही तीन खिलाड़ियों की कहानी सुना रहे हैं जिनका खेल पैसों की कमी के कारण प्रभावित हुआ है। पढ़िए उन्हीं की ज़बानी :  गलती करने से बडी गलती है उसे दोहराना   वर्चुअल वर्ल्ड ने बदली फैशन की इक्वेशंस
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन