ई-पेपर
Change Your City
 
ग्लैमर   राजनीति-2में नहीं होगा रणबीर का किरदार!  स्टडी आसान हुई तो सलेक्शन में स्टूडेंट्स की संख्या भी बढ़ी   लाइफसाइंसेज के लिए तैयारी कराने वाले एक्सपर्ट सूरज कुमार शर्मा कहते हैं कि स्टूडेंट्स को कॉन्सेप्ट पहले साइंस की भाषा में ही समझाया जाता है। लेकिन याद रखने के लिए रोचक किस्से कारगर होते हैं। उदाहरण के तौर पर डीएनए के फोस्फोडाइएस्टर बॉन्ड को समझाने के लिए सलमान ऐश्वर्या के ब्रेकअप और अभिषेक-ऐश्वर्या की शादी को लिया जा सकता है। नए न्यूक्लियोटाइड का अल्फाफोस्फेट के ऑक्सीजन का डबल बॉन्ड टूटने को मैं सलमान और ऐश्वर्या के ब्रेकअप से समझा देता हूं। पुराने न्यूक्लियोटाइड के ओ-एच के साथ बॉन्ड बनने को अभिषेक से ऐश्वर्या की शादी होने से कंपेयर करता हूं। इससे फायदा ये हुआ कि 2011 के बाद जूनियर रिसर्च फैलोशिप में हर साल स्टूडेंट्स का सलेक्शन बढ़ रहा है।  एलएसएटी एग्जाम 17 मई से  कौन हैं सतीश अजमेरा?   रायबहादुरकेसरलाल अजमेरा के पौत्र और सीए बीएल अजमेरा के बेटे हैं। खुद यूटीआई के सबसे नौजवान डायरेक्टरों में रहे हैं। वे खुद पूर्व गवर्नर्स तक के कर सलाहकार रहे हैं।  लक्ष्य गेट का हुआ आयोजन  कौन जीतेगा पैसों के पेड़ पर लगा पांच लाख का फल  Team Work  चिल्लर एप्प देगा मनी ट्रांसफर की सुविधा
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन