ई-पेपर
Home >> Jamshedpur >> Dbstar Jamshedpur
Change Your City
 
Á×àæðÎÂéÚUU   बारीडीहनिवासी एक बच्ची के कान में रबर फंस गया। वह घंटों परेशान रही। कान में फंसे जिस रबर को डॉक्टर नहीं निकाल पाए, उसे सड़क पर घूमते कान साफ करने वाले ने निकाल दिया। स्थानीय महिला आशा पात्रा ने सोमवार को बताया कि उनकी चार वर्षीय बेटी अदाशा जेएच तारापोर स्कूल, एग्रिको में नर्सरी में पढ़ती है। बेटी के कान में रबर का एक टुकड़ा गिर गया था।   उसे निकालने की कोशिश की गई, लेकिन नहीं निकला। देर रात उसे अस्पताल में भर्ती कराया। डाॅक्टरों ने अॉपरेशन की सलाह दी। दूसरे दिन ऑपरेशन कराने की बात थी। इधर, बेटी दर्द से परेशान थी। इस बीच बसंत टाॅकिज के पास एक कान साफ करने वाले व्यक्ति की जानकारी मिली। उसने रबर निकाल दिया। आशा कहती हैं, डॉक्टर ने जिस बात के लिए ऑपरेशन की सलाह दी थी, उसे साधारण व्यक्ति ने निकाल दिया।  çß·¤æâ ŸæèßæSÌß :|y}}®z®}|z  शहरीग्रामीण क्षेत्रों में तीन वर्ष पूर्व दो हजार सोलर लाइट लगाए गए थे। इस पर सांसद फंड से दो करोड़ रुपए खर्च किए गए थे। मगर, रखरखाव के अभाव में ज्यादातर लाइट खराब हो गए हैं। गौर करने की बात है कि लाइट लगाने के दौरान वैसे इलाके को चिह्नित किया गया था, जहां बिजली की समस्या है। लाइट खराब होने के बाद शाम होते ही इलाके में अंधेरा पसर जाता है। असामाजिक तत्वों की चहलकदमी बढ़ जाती है। घरों से निकलने में लोगों को डर लगता है।   यह जानने के लिए डीबी स्टार की टीम निकली। छानबीन करने के दौरान टीम ने देखा कि सार्वजनिक स्थल, प्राथमिक स्वास्थ केंद्र, सरकारी स्कूल, थाना ग्रामीण क्षेत्रों में लगाए गए सोलर स्ट्रीट लाइट की स्थिति अच्छी नहीं है। किसी की बैटरी तो किसी के बल्ब गायब हैं, कहीं खंभे क्षतिग्रस्त हो गए हैं। ऐसे में जिस मकसद से सोलर लाइट लगाए गए थे। उसकी पूर्ति नहीं हो रही है। नियमानुसार, सोलर लाइट लगाने वाली एजेंसी को पांच वर्षों तक इसकी देखरेख का जिम्मा सौंपा गया था।   मगर, संबंधित एजेंसी को इससे कोई लेना-देना नहीं है। यही कारण है कि 40 प्रतिशत से भी अधिक सोलर लाइट बेकार हो गए हैं। खबर की छानबीन के क्रम में पता चला कि ज्रेडा नामक एजेंसी को सोलर लाइट लगाने की जिम्मेदारी दी गई थी। स्थानीय लोगों ने बताया कि कुछ दिनों तक सोलर लाइट की स्थिति अच्छी रही। वहीं कुछ लोगों का यह भी कहना है कि लाइट लगाने में अनियमितता बरती गई है।
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन