Home >> Jamshedpur >> Dbstar Jamshedpur
Change Your City
 
डीसी ने कहा सड़क की होगी जांच  Á×àæðÎÂéÚUU   कॉलेजोंमें पढ़ाई के दौरान कक्षा खाली रहना, कॉलेज विवि प्रशासन के लिए चिंता का विषय बना है। हर साल केयू के विभिन्न कॉलेजों में हजारों विद्यार्थी दाखिला लेते हैं। बावजूद इसके कक्षा में विद्यार्थियों की उपस्थिति नहीं के बराबर रहती है। इससे केवल पढ़ाई प्रभावित हो रही है, बल्कि कॉलेज प्रशासन के अनुशासन पर भी सवाल खड़ा हो रहा है। इसके मद्देनजर, को-ऑपरेटिव कॉलेज के अर्थशास्त्र विभाग की ओर से पहल की गई है। विभाग के शिक्षक अभिभावक के नाम पत्र लिख रहे हैं। इसमें यह लिखा जा रहा है कि कक्षाएं चल रही है, बच्चों को कॉलेज भेजा जाए। साथ ही कक्षा में विद्यार्थियों की उपस्थिति के संबंध में भी जानकारी दी जा रही है। इसका मकसद विद्यार्थियों को बेहतर शिक्षा देने के साथ पढ़ाई के महत्व को समझाना है। अर्थशास्त्र विभाग के अध्यक्ष डॉ एमके तिवारी ने बताया कि क्लास में विद्यार्थियों की उपस्थिति काफी कम हो रही है। अधिकतर विद्यार्थियों को लगता है कि उन्हें एडमिशन के बाद सीधे परीक्षा फॉर्म भरने आना है।  कारण : तेनुघाटताप विद्युत निगम की यूनिट ठप होने के कारण शहर को 140 के बजाय 90 मेगावाट बिजली आपूर्ति की जा रही है। तेनुघाट में बुधवार को एक यूनिट फेल हो जाने से गैर कंपनी क्षेत्र में बिजली सप्लाई में परेशानी हो रही है। ऐसे में गम्हरिया ग्रिड को 60 गोलमुरी ग्रिड को महज 30 मेगावाट बिजली मिल रही है।   प्रभावितइलाका : घोड़ाबांधा,गोविंदपुर, बिरसानगर, परसुडीह, कदमा, सोनारी, शास्त्रीनगर, बागबेड़ा, जुगसलाई, कीताडीह, बारीडीह, बागुनहातु, भुइयांडीह, मानगो, आजाद बस्ती के साथ गम्हरिया और आदित्यपुर।   समस्या: बस्तीगैर कंपनी क्षेत्र के रिहायशी कॉलोनियों में भी बिजली नहीं है। इससे सबसे बड़ी समस्या पानी को लेकर है। घर का मोटर नहीं चलने से टंकी में पानी नहीं पहुंच रहा है। ऐसे में जिनके घर पर चापाकल, कुआं या अन्य कोई विकल्प नहीं है वैसे लोग दूसरे स्थान से पानी लाने के लिए विवश हैं। बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है।  आर्थिक गणना के नाम पर केंद्र सरकार द्वारा भेजे गए 1.68 करोड़ रुपए का बंदरबांट
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन