Change Your City
 
जांजगीर.लोकसभा चुनाव में संवेदनशील मतदान केंद्रों में पैनी नजर रखी जाएगी। संवेदनशील बूथों पर प्रेक्षक के प्रतिनिधि के रूप में माइक्रो आब्जर्वर उपस्थित रहेंगे। कुछ जगह डिजिटल कैमरा से हर गतिविधि व मतदाताओं की फोटोग्राफी की जाएगी।   दस केंद्रों में वेबकास्टिंग से हर गतिविधि पर नजर रखी जाएगी। इस संबंध में सामान्य प्रेक्षक की उपस्थिति में माइक्रो आब्जर्वरों को प्रशिक्षण दिया गया। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जांजगीर-चांपा लोकसभा क्षेत्र के लिए नियुक्त सामान्य प्रेक्षक सुरेन्द्र कुमार व कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अन्बलगन पी. की उपस्थिति में डाइट सभाकक्ष में माइक्रो आब्जर्वरों का द्वितीय चरण का चुनाव प्रशिक्षण हुआ। सामान्य प्रेक्षक सुरेन्द्र कुमार ने कहा कि सभी माइक्रो आब्जर्वर मतदान के दिन केंद्र में मॉक पोल के समय अनिवार्य रूप से उपस्थित रहें और मॉक पोल के बाद यह देखें की ईवीएम की क्लियर बटन को दबाया गया है या नहीं। उसके बाद की मतदान की प्रक्रिया शुरू कराएं। उन्होंने कहा कि माइक्रो आब्जर्वर मतदान दल के सदस्य नहींं है बल्कि वे यह निष्पक्ष रूप से यह देखेंगे कि मतदान दल द्वारा वहां निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के अनुरूप प्रक्रिया संपन्न हो की जा रही है या नही और प्रत्येक गतिविधि की रिपोर्टिंग निर्धारित प्रारूप में सामान्य प्रेक्षक को उपलब्ध कराएंगे। उन्होंने कहा कि मतदान के दिन किसी केंद्र में कोई गड़बड़ी पायी जाती है तो वे तत्काल इसकी सूचना उनके मोबाइल पर दें। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अन्बलगन पी. ने बताया कि जिले के 315 मतदान केन्द्रों को संवेदनशील केंद्रों के रूप में चिन्हित किया गया है। जिसमें 257 मतदान केंद्रों में माइक्रो आब्जर्वर तैनात रहेंगे वहीं 50 मतदान केन्द्रों में डिजिटल कैमरा की मदद से हर गतिविधि व मतदाताओं की फोटोग्राफी की जाएगी । उन्होंने बताया कि इसी तरह दस क्रिटिकल मतदान केन्द्रों में वेबकास्टिंग की व्यवस्था की जा रही है जिससे वहां की प्रत्येक गतिविधियों को लोग घर बैठे ही ऑनलाइन देख सकेंगे। उन्होंने कहा कि माइक्रो आब्जर्वर मतदान के दिन मतदान शुरू होने के पूर्व मॉकपोल से लेकर मतदान समाप्ति तक हर गतिविधि पर नजर रखेंगे और निर्वाचन आयोग द्वारा दिए गए 18 बिन्दुओं के चेक लिस्ट के अनुसार मतदान केन्द्रों की गतिविधियों की जानकारी प्रेक्षक को देंगे। प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर्स द्वारा माइक्रो आब्जर्वर के रूप में नियुक्त केन्द्रीय अधिकारी-कर्मचारियों को मतदान प्रक्रिया के विभिन्न पहलुओं, इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन का संचालन तथा निर्वाचन आयोग द्वारा सूक्ष्म प्रेक्षकों के लिए जारी दिशा निर्देश के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी सीएल यादव, जिला शिक्षा अधिकारी सतीश पाण्डेय, जिला रोजगार अधिकारी केदार पेटल, मुख्य प्रबंधक अग्रणी बैंक भीमसेन नामदेव सहित माइक्रो आब्जर्वर उपस्थित थे।   विधानसभावार हुआ रेंडमाईजेशन   सामान्य प्रेक्षक और जिला निर्वाचन अधिकारी की उपस्थिति में जिला कार्यालय के सभाकक्ष में माइक्रो आब्जर्वरों का विधानसभावार रेंडमाईजेशन संपन्न हुआ। माइक्रो आब्जर्वरों को 22 अप्रैल को आयोजित अंतिम रेंडमाईजेशन में मतदान केन्द्रवार आबंटित किया जाएगा।   फोटो- 19 जेएएन 6   ======
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन