ई-पेपर
Change Your City
 

Go to Page << Previous1234567...1718Next >>

 
 
 
संडे फोटो स्टोरी  गुजरात में लड़कियां कम, ओडिशा से लाई जा रही बहुएं  6 महिलाओं ने बनाया पहला क्लासिकल म्यूजिक बैंड  वेतन का 5 फीसदी जमा करेंगे माता पिता के खाते में  ब्रिसबेन में ओबामा ने गणतंत्र दिवस पर आने को कहा था हां  {भास्कर न्यूज नेटवर्क. नई दिल्ली   जिस किसान विकास पत्र बचत योजना को कालाधन आने की आशंका के कारण वर्ष 2011 में बंद कर दिया था, क्या उसकी रीलॉन्चिंग इस पर रोक लगा सकेगी? सर्टिफाइड वित्तीय सलाहकार हर्षवर्धन रूंगटा का मानना है कि केन्द्र सरकार के गजट नोटिफिकेशन के अनुसार किसान विकास पत्र खरीदने के लिए आधार और पेन कार्ड की अनिवार्यता नहीं होने के कारण इसमें कालाधन के निवेश की आशंका है। इसे रोकने के लिए सरकार ने कोई ठोस कदम नहीं उठाए हैं। लगभग उन्हीं पुराने नियमों के साथ इसे रीलॉन्च किया गया है।   पीपीएफ-एनएसी और बैंक में निवेश या कमाए गए ब्याज पर कर छूट का लाभ मिलता है। जबकि किसान विकास पत्र में यह सुविधा नहीं मिलेगी। पीपीएफ, एनएससी और बैंक में रिटर्न 8.5 से 9.5 फीसदी तक है। जबकि किसान विकास पत्र में मैच्योरिटी पीरिएड के हिसाब से रिटर्न प्रतिवर्ष 8.7 फीसदी ही मिलेगा।   àæðáÂðÁ%7 ÂÚ   औरटैक्स छूट ना होने से यह घटकर करीब 6.09 फीसदी हो जाएगा। राष्ट्रीय बचत पत्र, पीपीएफ और बैंक एफडी जैसी बचत योजनाओं से कम रिटर्न देने के बावजूद किसान विकास पत्र में 2015-16 में 35 हजार करोड़ रुपये आनेे का अनुमान है। जेएनयू में अर्थशास्त्र के प्रोफेसर अरुण कुमार का मानना है कि इसे दोबारा लॉन्च करने के पीछे का मकसद वित्तीय घाटा कम करना है। हालांकि डाक विभाग के वरिष्ठ अिधकारी किसी भी प्रकार के लिखित निर्देश मिलने के कारण असमंजस की स्थिति में है। अभी ज्यादातर डाकघरों में इसकी बिक्री की शुरुआत भी नहीं हो पाई है।     टैक्स देने के बजाए मिलेगा रिटर्न     अगरकोई अघोषित आय सरेंडर करता है तो उसे टैक्स और लेट पेमेंट का ब्याज देना होता है। जबकि छापेमारी में पकड़ी गई राशि पर 300 फीसदी तक जुर्माने के साथ ब्याज का प्रावधान है। यानि एक लाख रुपए पकड़े जाने पर अिधकतम 1.2 लाख रुपए और ब्याज देना होगा। इससे बचने के लिए इसमें कालाधन सकता है, जो जुर्माना के बजाए रिटर्न देगा।  दुनिया के अल्ट्रा रिच लोगों की अनूठी जानकारी  {भास्कर रिसर्च   एक स्मार्टफोन यूजर औसतन 26 एप डाउनलोड कर लेता है। जिनमें 20 मुफ्त होते हैं। अलग-अलग कैटेगरी के ये एप दैनिक जीवन को व्यवस्थित बनाने से लेकर मनोरंजन से जुड़े होते हैं। एपल के एप स्टोर पर 12 लाख और गूगल प्ले पर करीब 13 लाख एप्स मौजूद हैं। जहां एंड्रॉयड पर यूजर्स ने सबसे ज्यादा वॉट्स एप मैसेंजर को डाउनलोड किया, वहीं आईओएस पर कैंडी क्रश सोडा गेम टॉप पर है।   एंड्रॉयड और आईओएस यूजर्स दोनों ही सबसे ज्यादा डाउनलोड कर रहे हैं फेसबुक मैसेंजर। जबकि कैंडी क्रश साेडा सबसे पॉपुलर गेम बना हुआ है। ये वो एप हैं, जो दुनिया भर में पसंद किए जा रहे हैं। क्या आपने भी किया है इन्हें डाउनलोड?  भारत का सबसे बड़ा समाचार पत्र समूह
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन