ई-पेपर
Change Your City
 
भास्कर न्यूज | जयनगर   झारखंडशिक्षा परियोजना के निदेशक हंसराज सिंह ने बुधवार को प्रखंड के मॉडल विद्यालय के रूप में चयनित उत्क्रमित मध्य विद्यालय चंद्रा (पिपराडीह) का निरीक्षण किया। इस दौरान निदेशक ने विद्यालय के रसोई रूम, शौचालय, मध्याह्न भोजन, प्रयोगशाला आदि को देखा।   इस दौरान निदेशक ने छात्राओं से कई सवाल किए। वहीं निदेशक ने स्मार्ट क्लास का भी निरीक्षण किया। जहां विद्यालय के प्रधानाध्यापक मुकुंद कुमार सिन्हा द्वारा स्मार्ट क्लास में प्रोजेक्टर पर दिखाकर निदेशक को बताया। इस दौरान निदेशक ने प्रबंध समिति ग्रामीणों को मॉडल विद्यालय बनाने में सहयोग को लेकर सराहनीय कहा। निदेशक ने ग्रामीणों समिति सदस्यों से बातचीत करते हुए कहा कि बाहर में पढ़ने वाले छात्रों का इंटर किसी भी प्रकार की किताबें यदि घर में रखे हो तो उसे विद्यालय में रखे ताकि विद्यालय में छात्र-छात्राएं किताब को पढ़ सके। मौके पर ग्रामीणों ने उत्क्रमित मध्य विद्यालय चंद्रा को उच्च विद्यालय कराने की मांग की। मौके पर राज्य सहयोगी शिक्षा मित्र पारा शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष वीरेंद्र कुमार राय ने भी पारा शिक्षकों की कई समस्याएं रखी और स्थायीकरण की मांग की। मौके पर एडीपीओ नलिनी रंजन, बीईईओ सुनील कुमार गुप्ता, सत्येंद्र कुमार, प्रधानाध्यापक मुकुंद कुमार सिन्हा, वीरेंद्र कुमार राय, पवन सिंह, सीताराम शर्मा, बालदेव रजक, श्याम प्रसाद, मो. इब्राहिम अंसारी, सुरेंद्र सिंह, राजू दास, जायदा फरहीन सहित कई लोग मौजूद थे।
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन