Change Your City
 

Go to Page << Previous1234567...1314Next >>

 
 
 
ये हैं नए नियम  स्कूल में मिली सजा के बारे में घर पर नहीं बताते हैं बच्चे  मुंबई में आईं तो क्या जीवित रह पाएंगी हमबोल्ट पेंग्विन?  {भास्कर न्यूज नेटवर्क . तंजावुर  तमिलयूनिवर्सिटीने पहली बार तमिल सिखाने के लिए कॉरेसपोंडेंस कोर्स की अनुमति दी है। मदुरै को तमिल साहित्य के लिए जाना जाता है। कई बारअनुरोध के बाद तमिल यूनिवर्सिटी ने इसे इस तरह से सिखाने की अनुमति दी है। पूरी दुनिया में तमिल को पुरानी भाषाओं में से एक माना जाता है। इसे 2200 साल पुराना माना जाता है। चौंकाने वाली बात यह है कि अभी तक किसी ने भी गैर-तमिल भाषियों को यह भाषा कॉरेसपोंडेंस से सिखाने का प्रयास नहीं किया। भारतीयार थिंकर्स फोरम लगातार तीन साल से इसके लिए आग्रह कर रहा था। पिछले दिनों ही तमिल यूनिवर्सिटी ने राज्य सरकार को इस संबंध में प्रस्ताव भेजा है। इसमें 6 माह में डिप्लोमा और एक साल में सर्टिफिकेट कोर्स कराया जाएगा। पिछले दिनों संस्कृत सप्ताह के दौरान तमिल राजनेताओं में इसका विरोध किया है जबकि तमिलनाडु मंे कुछ पालकों ने बच्चों को हिन्दी सिखाने की मांग कर रखी है।  फेयरनेस क्रीम से जल जाती है चेहरे की कोशिकाएं: एम्स  कलाकार भी मान रहे हैं कमजोर रहा ये ‘युद्ध  कबाड़खाना बन गया था सबसे पुराना सचिवालय
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन