Home >> Maharashtra >> Nagpur
Change Your City
 

Go to Page << Previous1234567...1920Next >>

 
 
 
मध्यप्रदेश के भिंड जिले के मुन्नालाल दुकान चलाने के साथ कस्बे के लोगों की लड़ाई भी लड़ते रहते हैं   भास्कर नेटवर्क | भोपाल/कोटा/नई दिल्ली/ पटना/रायपुर/चंडीगढ़/रांची   मेडिकल में दाखिले के लिए रविवार को आयोजित नीट (नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट) में पिछले साल जैसी ही स्थिति रही। देशभर में 1040 केंद्रों पर परीक्षा से पहले और उसके दौरान बेहद सख्त उपाए किए गए थे। यहां तक कि छात्राओं का दुपट्‌टा और कान की बाली तक उतरवा ली गई। जो छात्र पूरी आस्तीन की शर्ट पहने थे, सेंटर के बाहर उनकी आधी आस्तीनें काट दी गईं।   सीबीएसई की ओर से आयोजित इस परीक्षा में 6.67 लाख विद्यार्थी शामिल हुए। सुप्रीम कोर्ट के आदेश में बाद इस साल नीट दो चरणों में हो रही है। पहले चरण में एआईपीएमटी के लिए आवेदन करने वाले छात्र परीक्षा दे रहे हैं। दूसरे चरण की परीक्षा 24 जुलाई को होगी। इसके लिए अलग से फॉर्म भरना होगा।   सुप्रीम कोर्ट ने देश में मेडिकल कोर्स में दाखिले के लिए इस साल से एक ही प्रवेश परीक्षा के आदेश दिए हैं।   कैमिस्ट्री में दो सवालों के दो सही जवाब, बॉयो के चारों जवाब गलत   नीट फेज-1 में कैमिस्ट्री में 45 सवाल थे। लेकिन वाई सेट के सवाल नं. 144 और 169 के जवाब जोे दो ऑप्शन दिए गए थे, वे दोनों ही इन सवालों के सही जवाब थे। बायोलॉजी में माइक्रो यूटरिन के संबंध में पूछे गए सवाल के चारों ऑप्शन गलत थे। वहीं, फिजिक्स के दो सवालों के ट्रांसलेशन को लेकर संशय है। बायो में भी दो सवालों का ट्रांसलेशन गड़बड़ है। ऐसे में एक्सपर्ट कह रहे हैं कि इस तरह की स्थिति में छात्रों को बोनस अंक मिल सकता है।   12 सवाल सिलेबस के बाहर से पूछे गए: पेपर में 90 सवाल बायोलॉजी, 45-45 फिजिक्स-कैमेस्ट्री के थे। जूलॉजी में 28 में से 10 के उत्तर बेहद मुश्किल थे। बॉटनी के 62 में से 4 सवाल टफ रहे। केमेस्ट्री में 63% सवाल 12वीं और 37% सवाल 11वीं क्लास के थे। बायो के 12 सवाल एनसीईआरटी के सिलेबस से बाहर के थे।  िजयो नो निगेटिव लाइफ   अभिव्यक्ति पेज पर पढ़ें
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन