Change Your City
 
शाजापुर. अजा/अजजावर्ग के विद्यार्थियों के परिवार की आमदनी 2.50 से 3 लाख रु. प्रतिवर्ष है, उन विद्यार्थियों की आधी फीस छात्रवृत्ति से ही ली जाएगी। इससे फीस के लिए विद्यार्थियों को अब परेशान नहीं होना पड़ेगा। उनकी पढ़ाई सुचारू रहेगी। राशि सीधे विद्यार्थी के बैंक खाते में ऑनलाइन भेजी जाएगी।           ऐसे छात्र जिन्हें शासन से छात्रवृत्ति मिल गई है और वे संस्था को शिक्षण शुल्क की प्रतिपूर्ति नहीं करते हैं। उन्हें परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं होगी।  बारिश के लिए 2 लाख बिल्व पत्रों से पूजा  जिला स्तरीय इंस्पायर अवार्ड विज्ञान प्रदर्शनी का समापन   21नन्हे रेंचो के मॉडल राज्य स्तर के लिए चयनित  500 का बिजली बिल अब आया 2500 रुपए  उत्सव के लिए आकार लेने लगे मिट्‌टी के गणेश  उज्जैन , शुक्रवार. 22 अगस्त, 2014
 
 
 
 
MATRIMONY
 
विज्ञापन