X

My Bookmarks

X

Select Date

Date

OK
Your Choices Regarding Cookies

We and third parties may deploy cookies and similar technologies when you use our site. Please review the information below and select the cookies for enhancing your Site/ App experience. However, you can change your consent choices at anytime by clicking “withdraw consent” from Hamburger menu/ left menu drawer on the Site/ App.

Web analytics

We use cookies to analyze and measure traffic to the site so that we know our audience and can improve our site, determine what stories are read, preferred news edition, default setting for the preferred news edition/ bookmarked news, where visitors come from, and how long they stay. Opt-In to these analytics cookies by clicking enable.

Content recommendation and personalization

We use third-party services for enabling your successful registration/subscription to E-paper module, to provide newsletters, content recommendations and customize your user experience and advertising. Opt-In to these content recommendation cookies by clicking enable. Please read our Cookie Policy and Privacy Policy for more details

Continue
Please Confirm

Are you sure you want to continue?

Download PDF

PDF Download option will be available after 12 PM only.

OK
Loading....
1234

आपकी ट्रायल अवधि के 18688 दिन शेष

कृपया अपना खाता सत्यापित करने के लिए अपनी वैध ईमेल आईडी दर्ज करें
X

जिम्मेदारों के जवाब : दोषियों को जल्द गिरफ्तार करेंगे^पुलिस ने आरोपियाें के खिलाफ राजकार्य में बाधा जिम्मेदारों के जवाब : दोषियों को जल्द गिरफ्तार करेंगे^पुलिस ने आरोपियाें के खिलाफ राजकार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज कर लिया है। आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जाएगा।-रामावतार मीणा, थाना प्रभारी, विराटनगर^बादशाहपुर के लोग रात को बिजली की चोरी कर बोरिंगों को बंद कर देते है। शिकायत की जांच के बाद उक्त लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज कराया जाएगा। पंप चालक से हुई मारपीट को लेकर पुलिस में मामला दर्ज करा दिया गया है।-अभिषेक चाहर, एईएन, जलदाय विभाग, विराटनगर िवभागीय जांच की तो मामले का हुआ खुलासा, जलापूर्ति भी हो रही थी प्रभावित िवभागीय जांच की तो मामले का हुआ खुलासा, जलापूर्ति भी हो रही थी प्रभावित विराटनगर में पेयजल किल्लतएईएन ने बताया कि शिकायत मिली कि स्थानीय व्यक्ति रात को बिजली चोरी करने के ल विराटनगर में पेयजल किल्लतएईएन ने बताया कि शिकायत मिली कि स्थानीय व्यक्ति रात को बिजली चोरी करने के लिए बोरिंंग को बंद कर देते है। बोरिंग बंद होने से जलाशयों में पानी भी पूरा नहीं भर पाता है। बादशाहपुर के ग्रामीणों की वजह से विराटनगर की जनता को परेशान होना पड़ता है।3 दिन पहले ही बदला था समयकस्बे में जलदाय विभाग के करीब तीन हजार उपभोक्ता है। उपभोक्ताओं को पानी पिलाने का मुख्य स्त्रोत बादशाहपुर नदी में बने बोरिंग है। बोरिंग के नकारा होने के चलते जलदाय विभाग ने पहले 72 घंटे के अंतराल पर होने वाली पेयजल सप्लाई को 96 घंटे के अंतराल पर देना तय किया है।पाइप लाइनाें में भी अवैध कनेक्शनबादशाहपुर से विराटनगर आ रही पेयजल पाइपलाइन में भी लोगों ने अवैध तरीके से कनेक्शन कर रखे है। कई बार मीटिंंगों में मुद्दा भी उठाया जाता है, लेकिन अवैध कनेक्शन कटाने के लिए कोई कार्रवाई नही होती है। 16 वीडीओ को दिया अतिरिक्त कार्यभारशाहपुरा| बीडीओ रामचंद्र मीणा ने पंचायत समिति में कार्यरत 16 ग्राम 16 वीडीओ को दिया अतिरिक्त कार्यभारशाहपुरा| बीडीओ रामचंद्र मीणा ने पंचायत समिति में कार्यरत 16 ग्राम विकास अधिकारियों को अतिरिक्त कार्यभार सौंपा। बीडीओ ने वीडीओ ईश्वरसिंह को बिलांदरपुर, बृजेन्द्र कुमार शर्मा को करीरी, रामधन जलूथरिया को खोरा लाडखानी,प्रमोद कुमार मीणा को मामटोरी कलां,शंकर लाल डोडवाडिया को पीपलोद नारायण व देवीपुरा, राकेश निर्वाण को धवली, प्रवीण गजराज को नायन, विजय घोसल्या को मुरलीपुरा, फूलचंद रेवाड को शिवसिंहपुरा,किशनचंद जाट को बिदारा व उदावाला,अशोक कुमार मीणा को मनोहरपुर, ओमप्रकाश शर्मा को खोरी,सोहनलाल सामरिया को छारसा ग्राम पंचायत का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा है। ज्यादती के मामले में फरार आरोपी गिरफ्तारमनोहरपुर| पुलिस ने सोमवार को महिला के अपहरण व बलात्कार के मा ज्यादती के मामले में फरार आरोपी गिरफ्तारमनोहरपुर| पुलिस ने सोमवार को महिला के अपहरण व बलात्कार के मामले में एक साल से फरार चल रहे एक आरोपी को गिरफ्तार किया। थाना प्रभारी अशोक कुमार ने बताया कि टोट्या उर्फ ओमी पुत्र सतवीर बावरिया निवासी नीमकाथाना हाल निवासी बिलाली थाना बानसूर फरार चल रहा था। इसे गिरफ्तार कर लिया गया। जयपुर, मंगलवार 02 मार्च, 2021 जयपुर, मंगलवार 02 मार्च, 2021 एनडीपीएस एक्ट के अांकड़े गवाह है... लगातार बढ़ रहे है मामलेवर्ष	मामले	गिरफ्तार आरोपी	जब्त सामग्री अन एनडीपीएस एक्ट के अांकड़े गवाह है... लगातार बढ़ रहे है मामलेवर्ष	मामले	गिरफ्तार आरोपी	जब्त सामग्री अनुमानित कीमत2018	30	30 स्मैक 0.232 किग्रा 11.60 लाखगांजा 7.266 किग्रा 72 हजार2019	42	47 स्मैक 0.367 किग्रा 19.35 लाखगांजा 8.063 किग्रा 80 हजार2020	45	55 स्मैक 0.566 किग्रा 28.30 लाखगांजा 91.941 किग्रा 9.20 लाखअफीम डोडा पोस्ट 2.300 किग्राम	11,500 हजार अमरसर के शेखागढ़ में बन रहा 3.11 करोड़ से महाराव शेखाजी पैनोरमा, शेखा जी के जीवन चरित्र व इतिहास को अमरसर के शेखागढ़ में बन रहा 3.11 करोड़ से महाराव शेखाजी पैनोरमा, शेखा जी के जीवन चरित्र व इतिहास को वर्तमान से करवाया जाएगा रूबरूमनोज शर्मा. अमरसरकस्बे के शेखागढ़ में राज्य धरोहर संरक्षण एवं प्रोन्नति प्राधिकरण से सन् 2018 में स्वीकृत 3.11 करोड़ की लागत से महाराव शेखाजी पैनोरमा निर्माण कार्य अंतिम चरण में चल रहा है। इस राशि में से 2 करोड़ 27 लाख 47 हजार की राशि से पैनोरमा के मूल भवन का निर्माण करवाया जा रहा है। जबकि शेष राशि से महाराव शेखाजी की 9 फुट ऊंचाई अष्टधातु प्रतिमा, मॉडल्स पेंटिंग्स व अन्य ऐतिहासिक तथ्यों पर आधारित इतिहास के संसाधन उपलब्ध करवाए जाएंगे। स्ट्रक्चर पर शेखाजी की 9 फुट ऊंची अष्टधातु की प्रतिमा को स्थापित कर दिया गया है। प्रतिमा स्थापित करने के बाद प्रतिमा की छतरी का निर्माण चल रहा है। ग्रामीणों ने मांग की कि मूल शेखागढ़ के भवन व परिसर का भी जीर्णोद्धार होने पर महाराव शेखाजी की यह जन्मस्थली एक दर्शनीय स्थल के रूप में विकसित हो सकती है।ये भी जानिए...- महाराव शेखा संस्थान के स्थायी अध्यक्ष पूर्व डिप्टी स्पीकर राव राजेंद्र सिंह ने करीब 3500 वर्ग गज भूमि राज्य सरकार को समर्पित की है।- शेखागढ़ के वशंज अपने नाम के आगे शेखावत लगाते है।550 साल पहले हुई थी शेखाजी और पठानों में मित्रताशेखाजी के पिता मोकलजी के निधन के बाद आमेर राज्य से मिली नायन- बरवाड़ा की 12 गांवों की जागीर पर शेखाजी ने नायन गांव में पीर बुरहान के दर्शन कर लौट रहे पन्नी पठानों से संधि कर मित्रता कायम की। शेखाजी ने अपने राज्य में से बनी पठानों के कबीलों को जागीर देकर बसाया जिन गांवों में आज भी करनी पठानों के वंशज बसे हुए हैं। 550 साल पहले महाराव शेखाजी की स्थापित धार्मिक सौहार्द्र की भावना आज भी शेखाजी के वंशज शेखावत व पन्नी पठानों के वंशज पठान निभा रहे हैं।नारी की आन के लिए हुए युद्ध में हुआ था शेखाजी का प्राणोत्सर्ग, 31 करोड़ से बन रहा आवासीय सैनिक प्रशिक्षण विद्यालयसंवत 1545 में शेखागढ़ में आई एक नारीने अपने पति का वध करने व उसका अपमान करने की बात शेखाजी को बताई थी। शेखाजी ने नारी स्वाभिमान की रक्षा व उसके पति की हत्या के अपमान का बदला लेने के लिए वर्तमान में जीण माता के पास गोडावाटी में गौड़ राजपूतों से युद्ध किया। घाटवा के मैदान में हुए इस युद्ध में घायल होने के पश्चात नारी की आन की रक्षा करते हुए उन्होंने अपने प्राण उत्सर्ग कर दिए। शेखाजी के निर्वाण स्थल रलावता में सरकार 31 करोड़ से आवासीय सैनिक प्रशिक्षण विद्यालय का निर्माण करवा जा रही है। इसमें अध्ययन करने वाले विद्यार्थियों को सेना भर्ती का प्रशिक्षण दिया जाएगा।शेखावाटी जनपद है शेखाजी के नाम से अलंकृतराजस्थान प्रदेश के चरू,ु झुंझुनू और सीकर जिले काे मिलकार शेखावाटी संभाग के नाम से जाना जाता है। यह संभाग महाराव शेखाजी के नाम से अलंकृत है। शेखाजी की वीरगति के बाद शेखाजी के वंशजों का शेखावाटी में विभिन्न क्षेत्रों में शासन रहा है। शेखावाटी के इतिहास में शेखावत वंश के राजाओं का योगदान रहा है। सीकर शहर के विकास में सीकर के राव राजा कल्याण सिंह, स्वामी विवेकानंद जी को विदेश भेजने में खेतड़ी के राजा अजीत सिंह का सहयोग उल्लेखनीय रहा है। स्टिंग ऑपरेशन : स्मैक की लत ने युवाओं को नशे के साथ अपराधिक गतिविधियों में धकेड़ा, क्षेत्र में स्मैक स्टिंग ऑपरेशन : स्मैक की लत ने युवाओं को नशे के साथ अपराधिक गतिविधियों में धकेड़ा, क्षेत्र में स्मैक कोटा, नीमच, झालावाड़ व चित्तौडगढ़ से स्मैक की सप्लाई होती, युवाओं में बड़ी स्मैक की मांग, 2500 से 3000 तक एक ग्राम का भावचखने के साथ स्मैक पीने के आदी बन रहे है युवा, सामाजिक जागरूकता से ही थमेगा यह कारोबारकार्यालय संवाददाता करौलीकरौली जिले में स्मैक का काला कारोबार खूब फल-फूल रहा है। यही वजह है कि स्मैक की चपेट में आने वाले लोग आपराधिक वारदातों को भी अंजाम देने में पीछे नहीं हट रहे हैं। स्मैक खरीदने के लिए जब पैसों की तंगी आ जाती है तो वे संगीन अपराधों को भी अंजाम दे देते हैं। हाल ही कोटरी में छप्परपोश में सो रही 90 वर्षीय एक वृद्धा की हत्या कर हाथ में पहने हुए चांदी के कंगने उतारकर ले जाने की घटना इसी का ताजातरीन उदाहरण है। परिजनों ने भी नशेडियों पर ही हत्या की आशंका जताई थी। कई प्रतिष्ठान व घरों में चोरी व महिलाओं के गले से चेन, मोबाइल आदि छीनने में कई वारदातों में स्मैकचियों का हाथ रहता है।इन क्षेत्रों में नशे का कारोबार ज्यादाकरौली व हिंडौन सिटी शहरी क्षेत्र के अलावा फैलीपुरा, टोडूपुरा, खेड़ाजमालपुर, कटकड, कोटराढहर, रुंधकापुरा, गांवडा मीना, गढ़ीबांधवा, कांचरौली, श्रीमहावीरजी, कोटरा, कुडगांव, सपोटरा, कैलादेवी।कोटा, नीमच-झालावाड़ व चित्तौडगढ़ से जुड़े हैं करौली में स्मैक के तारपुलिस की लाख कोशिशों के बावजूद स्मैक का कारोबार अपने चरम पर है। पुलिस ने तस्करों के खिलाफ अभियान चलाया हुआ है। क्षेत्र में स्मैक कोटा, नीमच, झालावाड़ व चित्तौडगढ़ से स्मैक की सप्लाई होती है। डीएसटी अधिकारियों के अनुसार 5 माह में अवैध मादक पदार्थों के विरूद्ध चलाए अभियान के तहत जिले में विभिन्न स्थानों से करीब 25 लोगों को गिरफ्तार कर 450 मिलीग्राम स्मैक व गांजा जब्त किया गया। स्मैक की कीमत अमूमन एक ग्राम की 2500 से 3 हजार रुपए व गांजे की एक किलो की करीब 10 हजार रुपए होती है।जिले में बढ़ रहा स्मैक का कारोबारजिले में लगातार स्मैक का कारोबार बढ़ रहा है। पुलिस रिकॉर्ड भी इसको पुष्ट कर रहे है। करौली जिले में 2018 में एनडीपीसी एक्ट के 30 मामले दर्ज कर 30 लोगों को गिरफ्तार किया गया । इनसे 0. 232 ग्राम स्मैक व 7 किलो 266 ग्राम गांजा जब्त किया गया। वहीं 2019 में दर्ज प्रकरणों की संख्या 32 और गिरफ्तार मुलजिमों की संख्या 47 हो गई, जबकि स्मैक की मात्रा बढ़ कर 0.387 किलोग्राम, गांजा 8 किलो 63 ग्राम जब्त किया गया। 2020 में दर्ज प्रकरणों की संख्या लॉकडाउन के बावजूद 45 हो गई और गिरफ्तार मुलजिमों की संख्या 55 हुई। इसके अलावा पुलिस ने 0.566 किलोग्राम स्मैक, 91 किलो 941 ग्राम गांजा व 2 किलो 300 ग्राम अफीम डोडा पोस्त जब्त किया।करौली में बढ़ गए सप्लायरजिले में हाड़ौती क्षेत्र से रेलगाड़ी के माध्यम से यह कारोबार चलाया जा रहा है। माल हिंडौन एवं महावीर जी रेलवे स्टेशन में उतर रहा है जहां से बड़े सप्लायर इस नशे के कारोबार को छोटे-छोटे सप्लायर पहुंचा रहे हैं। हिंडौन क्षेत्र हो या करौली क्षेत्र यहां पर स्मैक का कारोबा काफी बढ़ गया है। भास्कर पड़ताल के अनुसार करौली जिला मुख्यालय पर ही बग्गी खाना, केशवपुरा पुलिया के आसपास क्षेत्र, नूर कॉलोनी, गुलाब बाग, ढोली खार, मासलपुर दरवाजा, मेला गेट बाहर इस नशे का कारोबार चल रहा है। शहर में आसानी से स्मैक युवा पीढ़ी को मिल रही है। यहां तक की कई दुकानों से भी लोगों को स्मैक आसानी से उपलब्ध हो जाती है।300 से लेकर 3000 तक में होता है नशाइस कारोबार में शामिल लोग अपने धंधे को बढ़ाने के लिए स्मैकचियों को प्रलोभन देकर युवा पीढ़ी को गर्त की ओर ले जा रहे है। पहले इस कारोबार से जुड़े लोग युवाओं को इसकी आदत लगाते हैं और फिर उनका कारोबार शुरू हो जाता है। निशुल्क में मिलने वाला नशा ₹300 और फिर 1200 और 3000 रुपए तक पहुंच जाता है। स्मैक का एक कश लेने के लिए कोई दाम नहीं होता लेकिन फिर उसका उपयोग करने के लिए 300 रुपए और आदत बनने पर 3000 रुपए तक रोज देना पड़ रहा है। इसका उपयोग करने के लिए कई पान की दुकानों पर पेपर फॉल भी मिल रहा है।मानसिक रोग विशेषज्ञ डॉ. प्रेमराज मीना से सवाल जवाबस्मैक पीने वाले को किस तरह की बीमारियां हो सकती है?- स्मैक पीने वाले को बहुत ज्यादा कमजोरी हो जाती है और उसे जल्दी थकान होने लगती है। उसकी नींद उड़ जाती है। साथ ही कई दूसरी बीमारियां भी उसको लग जाती है। आजकल आने वाली स्मैक मिलावटी आ रही है। इसके ओवरडोज से मौत भी हो सकती है।स्मैक पीने वालों के क्या लक्षण दिखाई देते है?- स्मैक पीने वाले व्यक्ति का अंगूठा और अंगुली पर काले निशान होते हैं और वह जले हुए मिलेंगे। यह लोग हर समय जल्दी में रहते हैं और इनके आंखों की पुतली सिकुड़ जाती है।स्मैक को छुड़ाने के लिए क्या किया जा रहा है?- करौली जिले के अंदर अफीम से संबंधित प्रोडक्ट के लिए पूर्व में नई सवेरा स्कीम के तहत कैंप लगाया गया था। पंजीकृत नशा करने वाले जिले के 25 लोगों को नशा मुक्त किया गया था। इस कारोबार में युवा पीढ़ी पूर्णरूपेण शामिल हो रही है। इससे निजात दिलाने के लिए सामाजिक जागरूकता की महती आवश्यकता है।जिम्मेदारों से बातचीत : लोग होंगे जागरूक तो लगेगा विराम : एसपीनिश्चित तौर पर स्मैक का प्रयोग युवा वर्ग में बढ़ा है। कई लोग भी युवा पीढ़ी को इस गर्त में धकेल रहे हैं। इस धंधे का परंपरागत केंद्र हाड़ौती, कोटा, बूंदी, बारा, झालावाड़ माना जाता है। करौली जिले में भी यह यहीं से आ रही है। पूर्व में पकड़े गए स्मैक सप्लायर झालावाड़ व बारां क्षेत्र के थे। इस पर लगाम लगाने के लिए धारा 29 एनटीपीसी का प्रयोग पुलिस कर रही है। इसमें स्मैक का उपयोग करने वाला जितना अपराधी है उतना ही स्मैक उस व्यक्ति को देने वाला आरोपी माना जाएगा। शहर में कहीं भी स्मैक का प्रयोग करने वाले की सूचना लोग स्वयं उनके नंबर 9694300399 पर दे सकते है। सूचना देने वाले का नाम व पता पूर्ण रूपेण गुप्त रखा जाएगा। नशे के कारोबार को रोकने के लिए लोगों में जागरूकता होना जरूरी है। जितना पुलिस इसके लिए जिम्मेदार है उतना ही नशा मुक्ति केंद्र समाज एनजीओ भी जिम्मेदार है। सभी की भागीदारी से ही इस नशे के कारोबार को खत्म किया जा सकता है। राजनौता व दादुका साहबी नदी क्षेत्र के 5 बीघा क्षेत्र में परदेशी बबूल जले राजनौता व दादुका साहबी नदी क्षेत्र के 5 बीघा क्षेत्र में परदेशी बबूल जले क्षतिग्रस्त गोरधनपुरा रोड पर वृद्ध को ट्रक ने कुचला, जाम क्षतिग्रस्त गोरधनपुरा रोड पर वृद्ध को ट्रक ने कुचला, जाम बादशाहपुर में लोगों की बिजली चोरी में ली गई डोरी दिखाता कार्मिक। बादशाहपुर में लोगों की बिजली चोरी में ली गई डोरी दिखाता कार्मिक। मार्च के शुरू में ही पारा सामान्य से 8 डिग्री ज्यादा, बिना पके ही सूखने लगी फसलें, गेहूं व जौ की फसल मार्च के शुरू में ही पारा सामान्य से 8 डिग्री ज्यादा, बिना पके ही सूखने लगी फसलें, गेहूं व जौ की फसल में 30% नुकसान मामा के संग दवा लेने हॉस्पिटल गई बालिका बिछुड़ी, पुलिस ने मिलाया मामा के संग दवा लेने हॉस्पिटल गई बालिका बिछुड़ी, पुलिस ने मिलाया नाकाबंदी कर 15 वाहन चालकों के चालान काटे नाकाबंदी कर 15 वाहन चालकों के चालान काटे बादशाहपुर पंप हाउस का नॉन रिटर्न वाल्व तोड़ा, टोका तो पंप चालक के साथ की मारपीट, केस दर्ज बादशाहपुर पंप हाउस का नॉन रिटर्न वाल्व तोड़ा, टोका तो पंप चालक के साथ की मारपीट, केस दर्ज 5 साल से आदेश, फिर भी नहीं रुक रही रोडवेज बस 5 साल से आदेश, फिर भी नहीं रुक रही रोडवेज बस न्यूज ब्रीफ न्यूज ब्रीफ पंचतंत्र पंचतंत्र
X